डीएम ने लापरवाहों के कसे पेंच, बोले 72 घंटे के अंदर बदला जाये खराब ट्रांसफर

बरेली: जिलाधिकारी वीरेन्द्र कुमार सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में सूखा-बाढ़ स्टीयरिंग की बैठक के गई.जिलाधिकारी ने विभिन्न विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि भीषण गर्मी व सूखे जैसी स्थिति पैदा होने पर तथा बरसात के समय भारी अतिवृष्टि व बाढ़ जैसी स्थिति बनने की दशा में उनके विभाग द्वारा क्या-क्या कार्यवाहियां किया जाना उपेक्षित होता है. उसका बिन्दुवार, क्षेत्रवार व कार्मिक वार माइक्रो कार्य योजना 5 दिन के अन्दर तैयार कर प्रस्तुत करें.

जिलाधिकारी ने कहा कि पेयजल के सभी स्रोत यथा पेयजल योजनायें हैण्डपम्प आदि ठीक-ठाक हालत में रखे जाये. शहरी क्षेत्र से लेकर ग्रामीण इलाकों में कार्यवाही सुनिश्चित की जाये.

गर्मी के मौसम विद्युत की उपयोगिता बढ़ जाती है. इसकी आपूर्ति तथा खराब ट्रांसफार्मर को 72 घंटे में बदला जाये साथ ही फाल्ट भी फ़ौरन ठीक किये जाएँ. गर्मी के मौसम में आगजनी की घटनाओं की सम्भावना रहती है. उन्होंने दमकल विभाग को 24 घंटे सतर्क रहने के आदेश दिए. सिंचाई विभाग को निर्देशित किया कि रोस्टर के हिसाब से नहरे चलाई जाएँ. पशु पक्षी, जानवरों के लिये तालाबों को भरा जाये.

चिकित्सा विभाग संक्रमण रोगों से बचाव एवं चिकित्सा व्यवस्था सुनिश्चित करें. ग्रामीण क्षेत्रों कें अस्पतालों तक समुचित दवाईओं का स्टाक रहे. सूखे जैसी स्थिति बनने पर लोगों को रोजगार पशुओं के लिये चारा आवश्यक खाद्यान व्यवस्था आदि के लिये सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया.

इसके अलावा नालों की सफाई, जल निकासी के मार्ग ठीक कराये जाये ताकि कही जल भराव जैसी स्थिति न बने.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *