कोर्ट के फैसले से निराश युवक ने मंदिर में की तोड़फोड़, वजह कर देगी हैरान

बरेली. यूपी के बरेली में एक युवक ने हत्या के मामले में भाई और भांजी को उम्रकैद की सजा सुनाये जाने से निराश होकर मंदिर में न सिर्फ उत्पात मचाया. बल्कि मूर्तियों की तोड़फोड़ कर दी. स्थानीय लोगों ने युवक की पिटाई कर पुलिस को सौंप दिया.

जानिये क्या है पूरा मामला

नकटिया पुलिस चौकी के गोकुलनगर निवासी सूरज के भाई अनिल और भांजी किरण पर आरोप है कि दोनों ने मिलकर अपनी सास की हत्या कर दी थी. मामला शाहजहांपुर कोर्ट में चल रहा था. गुरूवार को कोर्ट ने किरण और अनिल को दोषी मानते हुए आजीवन काराबास की सजा सुनाई थी. आरोप है कि भाई और भांजी की सजा की बात सुनकर सूरज बौखला गया और देर रात उसने महल्ले के मंदिर में तोड़फोड़ कर पूजा सामग्री तहस-नहस कर दी.

सुबह जब लोग मंदिर में पूजा करने पहुंचे तो मूर्तियों को खंडित देखा. कुछ ही देर में मंदिर पर लोगों की भीड़ जुट गई. लोगों ने बताया कि सूरज ने मंदिर में तोड़फोड़ की है. गुस्साए लोगों ने थोड़ी ही देर में सूरज को पकड़ लिया और पिटाई कर पुलिस को सौंप दिया.
लोगों का कहना है कि भाई और भांजी को आजीवन काराबास की सजा सुनकर वह अपना मानसिक संतुलन खो बैठा है. जिस वजह से उसने इस तरह की घटना को अंजाम दिया. लोगों की समझदारी की वजह से मामले ने टूल नहीं पकड़ा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *