कलंक कथा: बरेली में रेप पीड़िता को काउंसलर पढ़ाने लगे शरीयत का पाठ, फिर हुआ कुछ ऐसा!

बरेली. यूपी के बरेली में रिश्तो की ऐसी कलंक कथा सामने आई है. जिसे सुनकर आपके होश उड़ जाएंगे. एक महिला ने ससुर द्वारा तमंचे की नोक पर दुष्कर्म करने का आरोप लगा है.

यही नहीं महिला का आरोप है कि ससुर ने उसके पति की मर्दानगी घटाने के लिए दवाईयां भी खिलाई. पुलिस ने महिला की शिकायत पर उसे परिवार परामर्श केंद्र भेज दिया. यहाँ भी कानून की जगह महिला को शरीयत का पाठ पढ़ाया गया. उधर मीडिया के माध्यम से जब मामला एसएसपी जोगेंद्र कुमार के सामने आया तो काउंसलरों के खिलाफ जांच के आदेश दिए है.

जानिये क्या है पूरा मामला

बरेली के पुलिस परिवार परामर्श केंद्र में काउंसलर के पास बैठा ये परिवार बरेली के बहेड़ी कस्बे का है. महिला की शादी दो साल पहले पप्पू के साथ हुई थी. आरोप है कि शादी के कुछ दिन बाद ससुर ने न सिर्फ उसके साथ तमंचे के बल पर दुष्कर्म किया बल्कि उसके पति को भी नामर्द बनाने की दवाई खिलाई. पीड़िता अब कानूनी कार्रवाई चाहती है. पीड़िता का कहना है कि वह ससुर को सजा दिलाकर ही दम लेगी.

ससुर ने लगाया ये आरोप

उधर महिला के ससुर और पति का कहना है कि वह झूठ बोल रही है. उन्होंने आरोप लगाया कि महिला निकाह में ससुराल वालो के चढ़ाये गए जेवर अपने मायके ले गई और अब झूठा मुकदमा दर्ज कर फसाना चाह रही है.

पति रहे साथ ससुर को मिले सजा

पीडि़ता ने एसएसपी को दिए शिकायती पत्र में ससुर को सजा दिलाने और खुद अपने शौहर और बच्चों के साथ रहने की मांग की है. पुलिस परामर्श केंद्र में पहुंचे इस केस पर काउंसलर खलील कादरी भी असमंजस में हैं. उन्होंने ससुर, पति और बहू तीनों को सामने बैठाकर बात की लेकिन, कोई हल नहीं निकला. जिसपर उन्होंने सुनवाई के लिए अगली तारीख दी है.

मगर इस सारे मामले में महिला का भविष्य अब अधर में है. वह भले ही अपने घर वापस जाना चाहे मगर इस्लाम इसकी इज़ाज़त नहीं देता. काउंसलर खलील कादरी भी महिला को शरीयत का हवाला दे रहे है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *