Video: बाबा साहब अम्बेडकर का नाम बदलने पर अखिलेश ने सीएम योगी को दी ये सलाह !

लखनऊ: यूपी के सरकारी रिकार्ड में अब बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर का नाम भीमराव रामजी आंबेडकर दर्ज किया जाएगा. इसे लेकर प्रदेश सरकार ने शासनादेश जारी कर दिया है.

जिसका विपक्ष कड़ा विरोध कर रहा है. यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को संविधान पढ़ने की सलाह दी है.

उन्होंने कहा कि देश का हर नागरिक जिसे वोट डालने का अधिकार है वह बाबा भीमराव अम्बेडकर को जरूर जानता होगा. उनका सम्मान उनसे प्रेरणा लेने वाले लोग न जाने कितने मिल जायेंगे.

आज जरूरी है कि जहाँ बाबा साहब के नाम को याद कर रहे हैं, उनके नाम में और राम जुड़ रहा है. वही उनके दिखाए हुए रास्ते पर कैसे चलें.

नाम सरकार जोड़ती है मैं समझता हूँ अब ये जरूरी हो गया है कि इस प्रदेश के मुख्यमंत्री कम से कम संविधान की कुछ लाईनों को पढ़ लें. अगर कुछ लाईनों को पढ़ लेंगे तो शायद् जो सदन में समाजवाद को लेकर नाराजगी दिखाई देती है वह दिखाई नहीं देगी.

जानिये क्या है शासनादेश

प्रमुख सचिव (सामान्य प्रशासन) जितेन्द्र कुमार ने प्रदेश के सभी अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव और विभागाध्यक्षों को कल जारी शासनादेश में कहा है कि संविधान की आठवीं अनुसूची (अनुच्छेद 344(1) और-351) भाषाएं में अंकित नाम का संज्ञान लेते हुए शासन ने विचार के बाद उत्तर प्रदेश से सम्बन्धित सभी दस्तावेजों में अंकित ‘डॉक्टर भीमराव अम्बेडकर’ का नाम संशोधित करके ‘डॉ. भीमराव रामजी आंबेडकर’ करने का निर्णय लिया है.

सभी सम्बन्धित सभी अधिकारियों से अपने-अपने विभाग के अभिलेखों में अम्बेडकर का नाम संशोधित करके भीमराव रामजी आंबेडकर करने के निर्देश दिये गये हैं. बहरहाल, राज्य सरकार के इस कदम की विपक्ष तीखी आलोचना कर रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *