दो भाइयों का शव मिलने से मचा हडकंप, जाँच में जुटी पुलिस

बरेली. यूपी के बरेली में दो भाइयो का शव मिलने से हडकंप मच गया है. परिजनों का आरोप है कि हत्या के बाद आरोपियों ने हादसे की शक्ल देने का प्रयास किया है. पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर शव पोस्त्मर्तम के लिए भेज दिए.

बिथरी चैनपुर के अइयापुर गांव के रहने वाले 40 वर्षीय पवन कुमार और 25 वर्षीय संजीव बुधवार रात ड्यूटी करने के लिए शहर आ रहे थे. रास्ते मे रसुइयां स्टेशन के पास सड़क पर दोनों के शव पड़े मिले. रात तक पुलिस इसे हादसा मान रही थी.

लेकिन परिजनों ने पुरानी रंजिश के चलते हत्या का आरोप लगाया है. मृतक के परिजनों का आरोप है कि पवन कुमार की गांव के ही विजनेश से रंजिश चल रही थी. जिसके कारण पूरी योजना के तहत दोनों की धारदार हथियार और लोहे की रॉड से पीट पीट कर हत्या कर दी गई. परिजनों का आरोप है कि हत्यारों ने संजीव के ऊपर तेजाब भी डाला है. परिजनों ने गांव के ही विजनेश, रजनेश, अवधेश और ओमकार के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है.

सबूत छिपाने के लिए की हत्या

परिजनों ने पुलिस को बताया कि 29 मई 2011 को गांव में ही विजनेश के भाई सतेंद्र कुमार की हत्या की गई थी. जिसमे पवन कुमार को नामजद किया गया था. पवन कुमार कुछ दिनों बाद ही जेल से छूट गया था.

तब से विजनेश और पवन कुमार की रंजिश चल रही थी. संजीव के परिजन सुनील ने बताया कि आरोपियों की रंजिश पवन से चल रही थी लेकिन पवन और संजीव साथ मे ही ड्यूटी जा रहे थे इस लिए आरोपियों ने संजीव को भी मार दिया जिससे कोई सबूत न बचे.

वहीं इस मामले में एसपी सिटी रोहित सिंह साजवान ने बताया कि मामला हादसे का लग रहा है और वादी की तरफ से जो तहरीर दी गई है उसके हिसाब से हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है. शवों का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है और पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *