जानिये सपा प्रत्याशी को जिताने में कौन भाजपा नेता लगा रहे जोर !

बरेली. बरेली की चर्चित बिथरी ब्लाक प्रमुख सीट पर 9 मार्च को हो रहे उप चुनाव में समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी को बहुजन समाज पार्टी का समर्थन मिल रहा.

यही नहीं भाजपा के दो मंत्री भी अंदरखाने भाजपा प्रत्याशी के सियासी समीकरण बिगाड़ने में लगे हैं. जिस बजह से भाजपा प्रत्याशी की बेचैनी बढ़ गई है.

सपा के एक बड़े नेता के फोन पर अपहरण के आरोपी को मिली पुलिस सुरक्षा

समाजवादी पार्टी से ब्लाक प्रमुखी का चुनाव लड़ चुके विजेंद्र पटेल को इस चुनाव में अपने सबसे धुरविरोधी बसपा से पूर्व विधायक रहे वीरेन्द्र सिंह का समर्थन मिल रहा है. समाजवादी पार्टी भी जी जान से अपने प्रत्याशी को चुनाव लड़ा रही है.

जबकि भाजपा विधायक राजेश मिश्रा उर्फ़ पप्पू भरतौल ने गौरव सिंह अरमान को मैदान में उतारा है. आज ब्लाक प्रमुख पद के लिए नामांकन कराये गए.

सबसे चौकाने वाली बात है कि अपहरण के आरोपी विजेंद्र को नबदिया झादा से पुलिस एस्कार्ट ने बिथरी ले जाकर 2 बजे नामांकन कराया.

सूत्रों की मानें तो सपा के एक बड़े नेता ने जिले के वरिष्ठ अधिकारी को फोन कर पुलिस सुरक्षा में आरोपी का नामांकन कराने को कहा. जिसके बाद उसे पुलिस सुरक्षा में लेकर नामांकन कराया गया.

मालूम हो कि सपा प्रत्याशी विजेंद्र पटेल पर गत दिनों एक बीडीसी सदस्य की पत्नी ने पति के अपहरण का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया था. जिसमे विजेंद्र नामजद है. हलांकि अपहृत व्यक्ति ने वीडियो जारी अपने को सुरक्षित बताया था. लेकिन वह अभी तक अफसरों या परिवार के सामने नहीं आया. मामले के फ़ौरन बाद पुलिस ने विजेंद्र को जिला अस्पताल से गिरफ्तार किया था.

लेकिन बाद में सरकार में एक कद्दावर मंत्री के जिले के एक अफसर के कहने पर रात को ही सिटी मजिस्ट्रेट ने 151 की कार्रवाई कर थाने से ही जमानत दे दी थी. इसके बाद पीड़ित महिला ने आरोपियों के खिलाफ बयान देकर कार्रवाई की मांग की थी.

बताया जाता है कि एक मामले को लेकर डीएम भी विधायक से खफा है. वह भी नहीं चाहेंगे कि विधायक की पकड़ मजबूत हो.

उधर सपा भी चाहती है कि इस सीट को जीतकर उनकी बाह बाही होगी. केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार, वित्तमंत्री राजेश अग्रवाल भी पप्पू भरतौल के बढ़ते कद और चर्चित राजनीती से नाराज बताये जा रहे है.

सपा प्रत्याशी को बसपा और दो बड़े भाजपा नेताओं का आंतरिक समर्थन मिलने से इस महाभारत में विधायक पप्पू भरतौल अकेले नजर आते दिख रहे हैं. लेकिन भाजपा विधायक पप्पू भरतौल अपने प्रत्याशी के लिए भारी संख्या में बीडीसी सदस्य जुटाने का दावा कर रहे है.

सूत्रों की माने तो सरकार में बैठे एक बड़े मंत्री की आँख में विधायक पप्पू भरतौल खटक रहे है. उन्ही की बजह से जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी भाजपा के खाते में नहीं आ सकी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *