ज्यादा कॉफी पीने से होती हैं ये बीमारी, रहें सतर्क

लोग अपनी थकावट को दूर करने के लिए और फुर्ती लाने के लिए कॉफी का सेवन करना पसंद करते हैं. इसमें भारी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो शरीर के लिए लाभदायक होते हैं.

लेकिन ज्यादा कॉफी पीने की आदत आपको मोटापे का शिकार भी बनाती है.

कॉफी एक बीज होता है जो एक लंबी प्रक्रिया से गुजरने के बाद उपयोग करने लायक बनता है. इसमें फाइटोन्यूट्रिएंट्स, पॉलीफीनॉल्स और कई एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं. इसमें कैफीन, रिफ्लेविन (विटामिन B2), पेन्टोथेनिक एसिड (विटामिन B5), मैंगनीज, पोटेशियम, मैग्नीशियम और नियासिन भी होते हैं.

कॉफी को अगर एक नियत मात्रा में लिया जाता है तो इसके कई फायदे होते हैं. यह लिवर को स्वस्थ्य रखती है, फ्री रेडिकल्स को बढ़ने से रोकती है, दिल से जुड़ी बीमारियों का खतरा कम होता है और आपका मूड अच्छा रहता है.

लेकिन जब आप इसके आदी हो जाते हैं और इसकी जरूरत से ज्यादा मात्रा का सेवन करने लग जाते हैं तो ये कई स्वास्थ्य संबंधी बीमारियों का कारण बन जाती है.

केलेस्ट्रॉल लेवल का बढ़ना

ज्यादा मात्रा में कॉफी या अनफिल्टर्ड कॉफी पीने से केलेस्ट्रॉल बढ़ने लगता है. खासकर बैड केलेस्ट्रॉल, जिसे Low Density lipoprotein (LDL) कहते हैं.

अनफिल्टर्ड कॉफी में cafestol और kahweol दो पदार्थ होते हैं जो केलेस्ट्रॉल को बढ़ाते हैं. शरीर मे केलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ने से मोटापा और हृदय रोगों का खतरा बढ़ जाता है.

अगर आपको हाई केलेस्ट्रॉल की समस्या है तो अनफिल्टर्ड कॉफी की जगह फिल्टर्ड कॉफी लेना शुरू करें. कॉफी के साथ किसी शुगर युक्त चीज का सेवन करने से मोटापे का खतरा बढ़ जाता है. ब्लैक या प्लेन कॉफी का सीमित सेवन करना स्वास्थ्यवर्धक माना जाता है.

सामान्य व्यक्ति के लिए 250 मिलीग्राम प्रति कप से ज्यादा कॉफी का सेवन करना नुकसानदायक हो सकता है. हृदय रोग और उच्च रक्तचाप के रोगियों को 200 मिली ग्राम प्रति दिन से ज्यादा कैफीन का सेवन नहीं करना चाहिए.

किडनी को नुकसान

कॉफी में मूत्रवर्धक गुण होते हैं, इस वजह से आपको बार बार पेशाब जाना पड़ सकता है. ज्यादा मात्रा में कैफीन आपके किडनी के स्वास्थ्य के लिए भी हानिकारक होता है.

इसे किडनी फैलियर का भी खतरा बढ़ जाता है. 2004 में किए गए एक अध्ययन के मुताबिक काफी में मौजूद ऑक्सलेट खून में मौजूद कैल्शियम के साथ जुड़कर कैल्शियम ऑक्सलेट बनाता है जो गुर्दे की पथरी का मुख्य कारण होता है.

हड्डियों की कमजोरी

बहुत ज्यादा मात्रा में कॉफी पीना आपकी हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए भी हानिकारक होता है. इससे हड्डियों का भुरभुरा होने और ऑस्टियोपेरोसिस होने का खतरा होता है. ज्यादा मात्रा में कैफीन लेने से हड्डियां भी पतली होने लगती हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *