कासगंज कांड: चंदन का मुख्य हत्यारोपी सलीम गिरफ्तार

लखनऊ. कासगंज हिंसा के मुख्य आरोपियों में से एक सलीम खान को पुलिस ने बुधवार को गिरफ्तार कर लिया है. एडीजी (लॉ एंड आर्डर) ने इस बात की पुष्टि की है. जिस घर से चंदन गुप्ता को गोली मारी गई थी. सलीम उसी घर में रहता है. एडीजी के मुताबिक संभव है कि इसी के पिस्टल से गोली मारी गई थी. हालांकि अभी पुलिस को इस मामले में अन्य 11 आरोपियों की तलाश है. सुबह से ही इस तरह की ख़बरे भी आ रही थी कि कासगंज हिंसा के मामले में मुख्य आरोपी बनाए गए तीन लोग कोर्ट में सरेंडर भी कर सकते हैं.

हालांकि कासगंज के नवागत पुलिस अधीक्षक पीयूष श्रीवास्तव ने आज तक से फोन पर बात करते हुए इस बात से इनकार किया था और इसके बाद एडीजी स्तर पर सलीम को गिरफ्तार किए जाने की ख़बर आ गई.

गौरतलब है कि मंगलवार को कासगंज हिंसा के आरोपियों की संपत्ति की कुर्की करने के आदेश जारी किए गए थे. फरार चल रहे तीन मुख्य अभियुक्तों समेत 12 आरोपियों के घर पर संपत्ति की कुर्की का नोटिस चस्पा किया गया था.

ये नोटिस सभी आरोपियों के घर मुनादी कराकर चस्पा किए गए थे. सभी आरोपियों को एक मार्च तक कोर्ट में हाजिर होने को कहा गया है. कोर्ट में पेश नहीं होने पर इन सभी आरोपियों की संपत्ति की कुर्की कर ली जाएगी.

मंगलवार देर शाम को पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ यह कार्रवाई की. इससे पहले चंदन गुप्ता के पिता सुशील गुप्ता ने मामले में 18 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज कराई थी. मामले में सुशील गुप्ता ने जिन लोगों के खिलाफ FIR दर्ज कराई है,

उसमें सलीम, वसीम, नसीम, जाहिद उर्फ जग्गा, आसिफ कुरैली उर्फ हिटलर, असलम कुरैशी, असीम कुरैशी, नसरुद्दीन, अकरम, तौफिक, खिल्लन, शबाव, राहत, सलमान, मोहसिन, आसिफ जिम वाला, सादिक और बबलू शामिल हैं. इन आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 147, 148, 149, 341, 336, 307, 302, 504, 506, 124A के तहत मामले दर्ज किए गए हैं. हिंसा के मामले में पुलिस अबतक 145 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *